June 25, 2024

GarhNews

Leading News Portal of Garhwal Uttarakhand

मूलभूत सुविधाओं से वंचित स्वतंत्रता सेनानियों का गांव, आक्रोशित ग्रामवासियों ने चुनाव बहिष्कार की दी चेतावनी

Spread the love

देहरादून: प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक के क्षेत्र में विकास कार्य न होने से ग्रामीण काफी नाराज हैं। ग्रामीणों ने चुनाव का बहिष्कार करने की चेतावनी दी है। निशंक के गांव पिनानी से कुछ ही दूरी पर सिवांल गांव पड़ता है। ग्राम सभा सिवांल में 12 स्वतंत्रता संग्राम सेनानी रह चुके हैं, जिन्होंने अपना पूरा जीवन देश के लिए समर्पित कर दिया। अब तक ग्राम सभा में स्मृति चिन्ह स्थापित नहीं हो पाया है। जबकि ग्राम सिवांल को आदर्श ग्राम होना चाहिए था। बीते 27 जनवरी को गांव में रणवीर सिंह गुसांई की अध्यक्षता में एक खुली बैठक का आयोजन किया गया, जिसमें समस्त ग्राम वासियों ने आने वाले विधानसभा चुनाव के बारे में चर्चा की। बैठक में ग्रामवासियों ने चुनाव बहिष्कार करने की सहमति जताई। इस दौरान ग्राम वासियों ने कहा कि 10 साल पहले गांव में सड़क का निर्माण हुआ लेकिन अब तक सड़क पक्की नहीं हो पाई है। वहीं ग्राम सभा में करोड़ों रुपये की लागत से बने एलोपैथिक चिकित्सालय में न तो कोई चिकित्सक है व ना ही कोई फार्मासिस्ट व अन्य कर्मचारी। इस बारे में कई बार शासन प्रशासन से समस्याओं संबंधी अवगत कराया जा चुका है, लेकिन अब तक समस्याओं का हल नहीं हो पाया है। बैठक में ख्यात सिंह, किशन बिष्ट, जमुना देवी, जगमोन सिंह, यदुवीर सिंह, सते सिंह, पृथ्वी सिंह, नरेंद्र सिंह, पान सिंह, विनोद सिंह, रणवीर सिंह, जितेंद्र सिंह, कैलाश सिंह, सतेंद्र, विमला देवी,सुरभि देवी, अनसूया देवी, रेखा देवी, संदीप सिंह, पूनम देवी, आनंदी, यशोदा देवी, गुड़डी देवी आदि मौजूद रहे।

About Author