June 15, 2024

GarhNews

Leading News Portal of Garhwal Uttarakhand

यहां बेटियों ने लिया हार का बदला, पिता को हराने वालों को हराया

Spread the love

देहरादून। इस बार उत्‍तराखंड विधानसभा चुनाव 2022 में दो पूर्व मुख्‍यमंत्रियों की बेटियों ने अपने पिता की हार का बदला ले लिया। इस बार चुनाव में उन्‍होंने पिता को हराने वाले प्रत्‍याशियों को हराया। जी हां, हम बात कर रहे हैं पूर्व मुख्‍यमंत्री बीसी खंडूड़ी की बेटी रितु खंडूड़ी और पूर्व मुख्‍यमंत्री हरीश रावत की बेटी अनुपमा रावत के बारे में।

देहरादून। विधानसभा चुनाव 2022 के चुनाव में कई रिकार्ड बने। इसके साथ ही इस बार दो पूर्व मुख्‍यमंत्रियों की बेटियों ने अपने पिता की हार का बदला भी लिया। चुनाव में बेटियों ने उनके पिता को हराने वाले प्रत्‍याशियों को हराया। हम बात कर रहे हैं पूर्व मुख्‍यमंत्री भुवन चंद्र खंडूड़ी की बेटी ऋतु खंडूड़ी और पूर्व मुख्‍यमंत्री हरीश रावत की बेटी अनुपमा रावत के बारे में। 

इस विधानसभा चुनाव में ऋतु खंडूड़ी कोटद्वार विधानसभा सीट से चुनाव लड़ी और कांग्रेस के दिग्गज नेता सुरेंद्र सिंह नेगी को 31455 वोटों के अंतर से हराया। वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत की बेटी अनुपमा रावत हरिद्वार ग्रामीण सीट से विजय रहीं। उन्‍होंने भाजपा प्रत्‍याशी यतीश्‍वरानंद को हराया। बता दें कि 2012 में कोटद्वार सीट से सरेंद्र सिंह नेगी ने बीसी खंडूड़ी और 2017 में हरिद्वार ग्रामीण सीट से यतीश्‍वरानंद ने हरीश रावत को हराया था।

वर्ष 2012 में कोटद्वार विधानसभा सीट पर हुए चुनाव में कांग्रेस प्रत्‍याशी सुरेंद्र सिंह नेगी ने तत्‍कालीन मुख्‍यमंत्री बीसी खंडूड़ी को 4,623 वोटों से हराया था। इस चुनाव में बीसी खंडूड़ी को 27174 वोट मिले थे। वहीं, सुरेंद्र सिंह नेगी को 31,797 वोट मिले थे। वहीं, इसी सीट पर वर्ष 2017 में हुए चुनाव में भाजपा के प्रत्‍याशी हरक सिंह रावत विजयी रहे थे।

इसी तरह हरिद्वार ग्रामीण विधानसभा सीट पर 2017 में हुए चुनाव में तत्‍कालीन मुख्‍यमंत्री हरीश रावत को भाजपा के प्रत्‍याशी यतीश्‍वरानंद ने 12,278 वोटों से हराया था। इस चुनाव में पूर्व मुख्‍यमंत्री हरीश रावत को 32,686 वोट मिले थे, जबकि यतीश्‍वरानंद को 44,964 वोट मिले थे। इस बार चुनाव में हरीश रावत की बेटी अनुपमा रावत ने भाजपा प्रत्‍याशी यतीश्‍वरानंद को हरा दिया है।

About Author