June 25, 2024

GarhNews

Leading News Portal of Garhwal Uttarakhand

लेफ्टिनेंट कर्नल की प्रेमकहानी का दुखद अंत: सिलीगुड़ी में बार डांसर से हुआ प्यार, जम्मू-कश्मीर व गोवा तक घुमाया, देहरादून लाकर कर दी हत्या, जानिए नेपाल की युवती की मर्डर मिस्ट्री

Spread the love

देहरादून: राजधानी के रायपुर में हुई युवती की हत्या के मामले का रायपुर थाना पुलिस ने खुलासा कर दिया है। युवती का हत्यारा आर्मी में लेफ्टिनेंट कर्नल रामेन्दू उपाध्याय निवासी प्रेमनगर पंडितवाड़ी जनपद देहरादून मूल निवासी मोहल्ला चंद्रशेखर नगर रोजा गाजीपुर उत्तर प्रदेश निकला जोकि मौजूदा समय मे क्लेमेनटाउन में तैनात था। रामेंदू वर्ष 2010 में डिपार्टमेंटल कमीशन के रूप में लेफ्टिनेंट बना। वर्ष 2020 जनवरी में उसकी मुलाकात नेपाली मूल की युवती श्रेया शर्मा से डांस बार सिटी सेंटर मॉल सिलीगुड़ी पंश्चिम बंगाल में हुई थी, जहां पर उसे श्रेया शर्मा बहुत पसंद आई । पहली मुलाकात में ही उसकी श्रेया से दोस्ती हुई और उसके बाद दोनों के बीच आपसी संबंध बन गए। 

दोनों सिलीगुड़ी में पति-पत्नी की तरह रहते थे । कर्नल की जब उसकी पोस्टिंग देहरादून जिले में हुई तो वह श्रेया को भी अपने साथ देहरादून ले आया । जब उसकी जानकारी कर्नल की पत्नी को हुई तो उसने श्रेया को कुछ दिन होटल में रखने के बाद वापस सिलीगुडी भेज दिया । कुछ दिन बाद दोबारा उसने श्रेया को देहरादून बुला लिया और कुछ दिन होटल में रखने के बाद क्लेमेनटाउन में एक फ्लैट किराये पर लिया। कुछ दिन से श्रेया कर्नल पर शादी का दबाव बनाने लगी। इसलिए कर्नल ने उसे जान से मारने की योजना बनाई। 

नौ सितंबर को कर्नल श्रेया को बीयर पीने के बहाने राजपुर रोड स्थित एक क्लब ले गया, जहां पर रात को दोनों ने शराब पी। इसके बाद दोनों आईएसबीटी, घंटाघर, बल्लूपुर, डोईवाला फिर डोईवाला से वापस होते हुए महाराणा प्रताप चौक से थानो रोड की तरफ निकले। कर्नल ने अपनी कार थानो रोड पर सोड़ा सरोली सेके निकट जंगल जाने वाले रास्ते पर लगा ली। श्रेया अत्यधिक शराब के नशे में कर्नल पर शारीरिक संबंध बनाने को कह रही थी और अपने कपडे़ उतारने लगी । कर्नल ने कार से हथौड़ा निकालकर उसके सिर पर कई वार कर दिए। इसके बाद टायलेट क्लीनर से उसका चेहरा जलाने का भी प्रयास किया। श्रेया के शव को ठिकाने लगाकर उसने हथोडा थानो रोड पर सडक किनारे फेंक दिया । उसके बाद वापस आकर गाडी क्लेमनटाउन स्टोर में छुपा दी और श्रेया के सामान व पहने कपडों को भी गाडी में छुपा दिया।

About Author