June 15, 2024

GarhNews

Leading News Portal of Garhwal Uttarakhand

Fraud : चंडीगढ़ की शराब की बोतल पर डिफेंस का फर्जी स्टीकर लगाकर बेचने वाले गिरोह का पर्दाफाश, रिटायर्ड फौजी सहित तीन गिरफ्तार, सीएसडी कैंटीन के कर्मचारी भी रडार पर

Spread the love

देहरादून: यदि आप भी डिफेंस की शराब पीने के शौकीन हों और बोतल पर केवल डिफेंस का स्टीकर देखकर विश्वास कर लेते हैं तो आपको सावधान होने की जरूरत है। देहरादून की रायपुर थाना पुलिस ने एक ऐसे गिरोह का पर्दाफाश किया है, जोकि चंडीगढ़ मार्का की शराब सस्ते रेटों पर लाकर उस पर डिफेंस का स्टीकर लगाकर देते थे और फिर बोतल दो गुने रेट पर बेचते थे। पुलिस ने इस मामले में एक रिटायर फौजी सहित तीन को गिरफ्तार किया है। उनके पास से अलग-अलग ब्रांडों की 28 पेटी शराब बरामद की गई हैंं। इसमें सीएसडी कैंटीन आराघर के भी कुछ कर्मचारियों की मिलीभुगत की संभावना है।

थानाध्यक्ष रायपुर कुंदन राम को सूचना मिली थी बालावाला क्षेत्र में चंडीगढ़ व अन्य राज्यों से शराब लाकर बेचने वाला एक गिरोह सक्रिय है जोकि शराब पर डिफेंस के नाम का स्टीकर का लेवल लगाकर रिटायर्ड आर्मी के जवानों को बेच रहे हैं। इसमें रिटायर्ड आर्मी के जवान भी शामिल हैं। मंगलवार को पुलिस ने प्रवीण कुमार ठाकुर व अश्विनी कुमार उर्फ चिक्कू निवासी रायपुर को गिरफ्तार किया। वहीं पूछताछ के बाद जितेन्द्र सिह रावत निवासी ओम जनरल स्टोर निकट भरतू पुलिया को गिरफ्तार किया गया। तीनों के पास से 28 पेटी शराब व डिफेंस के फर्जी स्टीकर बरामद हुए। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि उन्होंने भरतू चौक बालावाला में किराये का मकान ले रखा है ।

 प्रवीण पहले सीएसडी कैंटीन आराघर पर काम करता था, जहां उसकी मुलाकात एक अन्य व्यक्ति से हुई थी । जो उस समय सीएसडी कैंटीन आराघर में हेड था। इसके बाद उन्होने बाहरी राज्यों से शराब लाकर उसमें डिफेंस का फर्जी स्टीकर का लेवल लगाकर लोगों को बेचने की योजना बनाई। गिरोह में पांच सदस्य हैं, जिसमें प्रवीण व अश्विनी पूर्व सीएसडी कैन्टीन हैड व दो अन्य व्यक्ति शामिल हैं। पांचों लोग मिलकर चंडीगढ़, हरियाणा व दिल्ली से सस्ती रेट पर शराब लाकर उत्तराखंड में बेचने का काम करते हैं। सीएसडी कैंटीन हेड उन्हें डिफेंस का फर्जी स्टीकर उपलब्ध करवाते हैं।

About Author