June 19, 2024

GarhNews

Leading News Portal of Garhwal Uttarakhand

बीरोंखाल हादसा: सड़क पर सांप दिखा, टैक्सी चालक ने वाहन रोक दिया, बस ओवरटेक करते हुए आगे निकली, 100 मीटर दूरी पर बस खाई में गिर गई, 30 से अधिक बारातियों के मरने की आशंका, रेस्क्यू जारी

Spread the love

कोटद्वार: कोटद्वार-रिखणीखाल-बीरोंखाल मार्ग पर सिमड़ी के पास बरातियों से भरी एक बस अनियंत्रित होकर पूर्वी नयार नदी की घाटी में गिर गई। हादसे में 30 से अधिक बरातियों की मरने की सूचना है। मंगलवार को हरिद्वार जिले के लालढांग से बारात बीरोखाल ब्‍लॉक के अंतर्गत कांडा तल्ला गांव जा रही थी। बस में 45 बाराती थे। लैंसडोन के पास ग्राम सिमड़ी के पास बरातियों से  खचाखच भरी बस 400 मीटर खाई में जा गिरी, जिससे 30 से अधिक बरातियों की मरने की सूचना है।

घायलों को खाई से निकालकर अलग-अलग अस्पतालों में दाखिल करवाया गया है। प्रत्यक्षदर्शी बरात में जा रहे दूसरे वाहन चालक ने बताया कि वह बस से आगे-आगे चल रहे थे। रिखणीखाल में चाय पानी पी। आगे बढ़े तो अचानक गाड़ी के आगे सांप आ गया, जिसके चलते उन्होंने सांप को बचाने के लिए ब्रेक मार दिए। 

इसका पता बस चालक को नहीं लग पाया और वह ओवरटेक करते हुए आगे निकल गया। 100 मीटर आगे निकलते ही बस में कुछ टूटने की आवाज आई और बस गहरी खाई में गिर गई। बस के दरवाजे पर खड़े कंडक्टर, बैंड के स्टाफ और फोटोग्राफर ने तुरंत सड़क पर छलांग लगा दी जबकि अन्य बस के साथ ही खाई में जा गिरे। ग्रामीणों की मदद से बचाव कार्य शुरू किया गया। 

रात भर चला बचाव कार्य
मंगलवार की रात हुए हादसे के बाद पुलिस और एसडीआरएफ ने रात भर राहत बचाव अभियान चलाया। घायलों को नजदीकी अस्‍पतालों में भर्ती कराया गया। प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने बस हादसे पर दुख व्‍यक्‍त किया है। उन्‍होंने अपनी संवेदना प्रकट करते हुए ट्ववीट में लिखा कि उत्तराखंड के पौड़ी में हुआ बस हादसा दिल दहला देने वाला है। इस दुखद घड़ी में मेरी संवेदनाएं शोक संतप्त परिवारों के साथ हैं। मुझे उम्मीद है कि जो लोग घायल हुए हैं वे जल्द से जल्द ठीक हो जाएं। बचाव कार्य जारी है। प्रभावितों को हर संभव मदद मुहैया कराई जाएगी।

About Author