June 25, 2024

GarhNews

Leading News Portal of Garhwal Uttarakhand

राजधानी में इन 40 सड़कों पर निकलने से करें परहेज, जाम से निकलने से छूट सकते हैं पसीनें

Spread the love

देहरादून: चार धाम व पर्यटन सीजन के चलते राजधानी पहले ही यातायात की समस्या से जूझ रहा है। ऊपर से वीकेंड पर बाहरी प्रदेशों से बड़ी संख्या में पर्यटक देहरादून, ऋषिकेश व मसूरी पहुंच रहे हैं। अब शहर को ‘स्मार्ट’ बनाने के लिए आधे शहर की सड़क को खोद दिया गया है, जिसके कारण रविवार को दिन भर चारों तरफ जाम लगा रहा। प्रिंस चौक, सहारनपुर चौक, जोगीवाला चौक, दिलाराम चौक वाले अतिव्यस्त चौराहे-तिराहे पर भी खोदाई करके समस्या बढ़ा दी गई है।

स्मार्ट सिटी के नाम पर शहरवासी पिछले दो सालाें से परेशानी झेल रहे हैं। इससे पहले शहर के बाहरी क्षेत्रों में खोदाई का काम किया जा रहा था, जिसके कारण समस्या इतनी अधिक नहीं थी, लेकिन अब अनियोजित ढंग से शहर के बीचों-बीच अतिव्यस्त चौराहों व तिराहों पर बड़े-बड़े खड्डे कर दिए गए हैं। अधिकतर पुलिस फोर्स चार धाम यात्रा पर गया हुआ है, जिसके कारण सड़कों से पुलिस भी गायब है। ऐसे में जाम की समस्या चरम पर पहुंच गई है।

बाटल नेक के चौड़ीकरण व सीवरेज लाइन बिछाने का चल रहा है काम

वर्तमान में स्मार्ट सिटी परियोजना व अन्य कार्यदायी संस्थाओं की ओर से शहर के अंदर 40 अलग- अलग बाटलनेक के चौड़ीकरण व सीवरेज और ड्रेनेज पाइप बिछाने का कार्य चल रहा है, जिसके कारण अनियोजित ढंग से जगह-जगह गड्ढे किए गए हैं। स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत स्थापित किए गए सीसीटीवी कैमरा, ट्रैफिक लाइट व अन्य संबंधित उपकरणों को भी हटाया गया गया है। ऐसे में शहर में ट्रैफिक लाइट और सीसीटीवी कैमरे भी बंद पड़े हुए हैं।

डीएम ने खोदाई के लिए यह रखी हैं शर्तें

– कार्य पुलिस अधीक्षक यातायात की ओर से 26 मई से 20 जून तक रात्रि 10 बजे से सुबहपांच बजे तक ही किया जाएगा।

– कार्य शुरू करने से पूर्व कार्य प्रगति का है बोर्ड लगाकर कार्य शुरू करेंगे

– कार्यस्थल पर कोई गड्ढे खोदकर नहीं छोड़ा जाएगा। सुबह पांच बजे से पूर्व उसे पूर्व की स्थिति में लाना होगा एवं कार्य करने के दौरान समुचित लाइट की व्यवस्था की जाएगी।

– कार्य करते समय डेंगू फैलने से बचाव के लिए कार्यस्थल पर अनावश्यक पानी को जमा न होने दें

– कार्य करते समय विशेष ध्यान रखा जाए कि किसी अन्य विभाग जल संस्थान, स्मार्ट सिटी, की पाइप लाइन, सीवर लाइन व ओएफसी केबल क्षतिग्रस्त न हो।

बरसात से पहले कार्य पूरे नहीं हुए तो बढ़ेगी समस्या

कुछ दिन बाद बरसात का सीजन शुरू होने वाला है। यदि तब तक स्मार्ट सिटी का कार्य पूर्ण नहीं हुआ तो परेशानी बढ़ सकती है। जगह-जगह जल भराव से दुर्घटनाओंं का खतरा बन सकता है, वहीं बरसात में सबसे खतरा डेंगू मच्छर से होता है। ऐसे में गड्ढों में डेंगू का मच्छर पनपने की पूर्ण संभावना है। वर्ष 2023 में शहर में डेंगू फैलने से कई लोगों की जान चली गई थी।

प्रिंस चौक से मातवाला बाग तक काम पांच माह में भी पूरा नहीं

स्मार्ट सिटी की ओर से प्रिंस चौक से मातावाला बाग तक सीवरेज व ड्रेनेट लाइन बिछाने के लिए कई जगह खोदाई की गई है। जनवरी माह में यह काम शुरू हुआ था, लेकिन पांच माह बाद भी कार्य अधूरा पड़ा हुआ है। जगह-जगह खोदाई के चलते यातायात जाम हो रहा है। वीकेंड पर बाहरी राज्यों से भी पर्यटक शहर से होते हुए निकलते हैं, ऐसे में शनिवार व रविवार इन मार्गों से निकलना मुश्किल हो जाता है।

शहर में इन जगहों पर की गई है खोदाई

1- लालपुल चौक

2- सर्वे चौक

3- नैनी बेकरी चौक

4- आइएसबीटी चौक

5- प्रिंस चौक

6- द्वारिका चौक

7- ओरिएंट चौक

8- बहल चौक

9- धरमपुर चौक

10- कनक चौक

11- यमुना कालोनी चौक

12- आराघर चौक

13- ग्लोब चौक

14- सीएमआइ अस्पताल चौक

15- पुरानी चुंगी बाईपास

16- रेसकोर्स चौक

17- सिटी हार्ट सेंटर

18- दिलाराम चौक

19- एमकेपी चौक

20- छह नंबर पुलिया

21- कमला पैलेस

22- सुभाष चौक

23-चकराता रोड टैगोर विला

24- मोहिनी रोड कट

25- मां वैष्णो मंदिर

26- एमएस इंद्रप्रस्थ

27- एमएस बोर्ड आफ़ रेवेन्यू

28-एमएस दून हिल्स कालोनी

29- बेलीवीयर्स चर्च

30- वीएमडी गुरुद्वारा नानक साहब

31- वीएमडी किरसाली चौक

32- मातावाला बाग

33- बुद्धा चौक

34- बिंदाल चौक

35- किशननगर चौक

36- दून अस्पताल चौक

37- लैंसीडोन चौक

38- दर्शनलाल चौक

39- सहारनपुर चौक

40- घंटाघर

About Author