June 15, 2024

GarhNews

Leading News Portal of Garhwal Uttarakhand

नकलमाफिया के सामने उत्तराखंड लोक सेवा आयोग भी हुआ फेल, लेखपाल की परीक्षा का पेपर भी हुआ आउट, पांच आरोपी गिरफ्तार, आयोग का अनुभाग अधिकारी निकला ‘खिलाड़ी’

Spread the love

देहरादून: उत्तराखंड में नौजवानों का भविष्य एक बार फिर अधर में लटक गया है। उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग की ओर से करवाई गई परीक्षाओं में पेपर लीक होने के बाद परीक्षाओं की जिम्मेदारी उत्तराखंड लोक सेवा आयोग को सौंपी गई थी। लेकिन आयोग की ओर से कराई गई लेखपाल की परीक्षा का पेपर ही आउट हो गया है।

पेपर और किसी ने कोई और नहीं बल्कि अनुभाग अधिकारी संजीव चर्तुवेदी ने ही आउट करवा दिया। इस मामले में एसटीएफ ने अनुभाग अधिकारी, उनकी पत्नी सहित पांच को गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों में संजीव चतुर्वेदी, अनुभाग अधिकारी, अतिगोपन अनुभाग-3, राज्य लोक सेवा आयोग, उनकी पत्नी ऋतु, राजपाल निवासी ग्राम कुलचन्दपुर थाना गागलहेडी, जनपद सहारनपुर, संजीव कुमार ग्राम कुलचन्दपुर उर्फ नथौडी थाना गागलहेडी सहारनपुर यूपी हाल निवासी फ्लैट नम्बर जी-407 जर्स कन्ट्री ज्वालापुर थाना ज्वालापुर जनपद हरिद्वार और रामकुंमार निवासी ग्राम सेठपुर, लक्सर, जनपद हरिद्वार शामिल हैं।

एसटीएफ़ के एसएसपी आयुष अग्रवाल ने बताया कि लोक सेवा आयोग की ओर से आठ जनवरी को आयोजित लेखपाल की परीक्षा के प्रश्न पत्र तैयार करने में आयोग के अति गोपन कार्यालय के अनुभाग-3 द्वारा कार्य किया गया था। उक्त अनुभाग में नियुक्त अनुभाग अधिकारी संजीव चर्तुवेदी ने अपने कार्यालय से स्वयं अभिरक्षा से प्रश्न पत्र लीक किया और अपनी पत्नी रितु के साथ मिलकर लीक प्रश्न पत्र राजपाल व संजीव को उपलब्ध कराया। इसके एवज में संजीव चर्तुवेदी व रितु को नगद धनराशि देकर, उक्त प्रश्न पत्र संजीव तथा राजपाल ने रामकुमार व अन्य के माध्यम से अभ्यर्थियों में बांटकर उनको यूपी बिहारीगढ के पास स्थित माया अरूण रिजार्ट एंव ग्राम सेठपुर लक्सर हरिद्वार व अन्य स्थानों में पढाया।

विवेचना में वर्तमान तक लगभग 35 अभ्यार्थियों द्वारा परीक्षा से पूर्व प्रश्न पत्र प्राप्त होना संज्ञान में आया है विवेचना प्रचलित है अन्य अभियुक्तो एवं उनके द्वारा अवैध रूप से अर्जीत धनराशि के सम्बन्ध में कार्यवाही की जा रही है। आरोपितों से लाखों रुपये बरामद किए गए ।

About Author