June 19, 2024

GarhNews

Leading News Portal of Garhwal Uttarakhand

मृतक श्रेया की बहन नेपाल से पहुंची देहरादून, बहन को गले लगाकर फफककर रो पड़ी, अक्टूबर में होनी थी श्रेया की सगाई

Spread the love

देहरादून: नेपाल मूल की 25 वर्षीय युवती श्रेया के कर्नल के साथ संबंधों के बारे में स्वजनों को पता नहीं था। स्वजनों ने श्रेया के लिए लड़का ढूंढा था अब सगाई की तैयारी चल रही थी। अक्टूबर में श्रेया ने घर आने को कहा था, इसलिए अक्टूबर में ही सगाई की तैयारी भी थी। देहरादून में श्रेया की हत्या की खबर सुनकर परिवार पूरी तरह से टूट गया। शनिवार को नेपाल से देहरादून पहुंची श्रेया की बहन सर्जना बहन को बाहों में लेकर फफककर रो पड़ी।

सर्जना ने बताया कि वह चार बहनें और उनका एक भाई है। श्रेया तीसरे नंबर पर थी, लेकिन घर के प्रति पूरी तरह से जवाबदेह थी। वर्ष 2015 में पिता की मृत्यु के बाद परिवार की आर्थिक स्थिति खराब हो गई। श्रेया ने हिम्मत दिखाई और वर्ष 2018 में सिलीगुड़ी बंगाल नौकरी करने के लिए चली गई। वह परिवार में सबका ध्यान रखती थी, और हर महीने खर्चा भेजती थी। श्रेया ने इकलौते भाई को अधिकारी बनाने के सपने देखे थे, इसलिए उसे इंजीनियरिंग की पढ़ाई करवा रही थी।

सर्जना ने बताया कि श्रेया डेढ़ वर्ष नेपाल आई थी, और उसे अब अक्टूबर महीने में घर आना था। इसी बीच 12 सितंबर को देहरादून पुलिस ने नेपाल पुलिस से संपर्क किया और घटना के बारे में बताया। पहले उन्हें यह विश्वास नहीं हुआ कि ऐसा हुआ होगा। क्योंकि श्रेया सिलीगुड़ी रहती थी और उसे देहरादून के बारे में कोई पता नहीं था। शनिवार दोपहर को वह अपने एक रिश्तेदार के साथ देहरादून पहुंची और बहन का चेहरा देखकर उनके पांव तले जमीन खिसक गई।

About Author