June 16, 2024

GarhNews

Leading News Portal of Garhwal Uttarakhand

कांवड़ यात्रा : चार से 15 जुलाई के बीच होगी कांवड़ यात्रा, ड्रोन व सीसीटीवी कैमरों से होगी निगरानी, इस वर्ष करीब चार करोड़ कांवड़ियों के यात्रा में आने की संभावना, कांवड़ यात्रियों के लिए पहचान-पत्र अनिवार्य

Spread the love

देहरादून: इस साल कांवड़ यात्रा चार से 15 जुलाई के बीच होगी। कांवड़ यात्रा को लेकर पुलिस विभाग ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। शुक्रवार को पुलिस पुलिस मुख्यालय देहरादून में अंतरराज्यीय व समन्वय बैठक के दौरान लिया गया, जिसमें निर्णय लिया गया है कि इस बार कांवड़ियों को अपने साथ पहचान पत्र रखना अनिवार्य रहेगा। किसी भी घटना-दुर्घटना में कांवड़िए की पहचान करने में सहायता सकेगी। कांवड़ यात्रा को लेकर आयोजित बैठक में उत्तर प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, राजस्थान, सीआरपीएफ, रेलवे सुरक्षा बल, अभिसूचना ब्यूरो के अधिकारियों ने प्रत्यक्ष एवं आनलाइन प्रतिभाग किया।

पुलिस महानिदेशक उत्तराखंड अशोक कुमार ने कहा कि कांवड़ एक बहुत बड़ा धार्मिक आयोजन है। सभी राज्यों के अधिकारियों से अभी से कांवड़ यात्रा के लिए पुलिस प्रबंध किए जाने की तैयारियों में लगने की अपेक्षा की, ताकि कांवड़ यात्रा के दौरान श्रद्धालुओं को किसी भी समस्या का सामना ना करना पड़े। सुरक्षा व्यवस्था एवं भीड़ प्रबंधन के लिए ड्रोन, सीसीटीवी का प्रयोग और इंटरनेट मीडिया मानिटरिंग को बढ़ाया जाएगा।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, हरिद्वार अजय सिंह ने कहा कि इस वर्ष लगभग 4 करोड़ कांवड़ियों के उत्तराखंड़ आने की संभावना है। इस वर्ष संपूर्ण कांवड़ क्षेत्र को 12 सुपर जोन, 32 जोन और 130 सेक्टर में विभाजित किया गया है, जिसमें पुलिस व्यवस्था में लगेंगे। उन्होंने बताया कि कांवड़ यात्रियों की सुविधा के लिए हरिद्वार पुलिस ने क्यूआर कोड जारी किया गया है, जिसमें वाहन पार्किंग, रूट डायवर्जन सहित सभी महत्वपूर्ण जानकारी हैं। 

बैठक में एडीजी मेरठ जोन राजीव सभरवाल, स्पेशल पुलिस महानिदेशक यूपी प्रशांत कुमार, एडीजी हरियाणा ममता सिंह, ज्वाइंट सीपी दिल्ली विवके किशोर व छाया शर्मा, एडीजी पंजाब गुरिंदर सिंह, एडीजी राजस्थान एस सैंगाथिर, आइजी सीआरपीएफ भानु प्रताप सिंह, आरपीएफ से सीनियर डीएससी शनमुगा वेदीवेल एस, एडीजी अभिसूचना हिमाचल प्रदेश सतवंत अटवल त्रिवेदी, एसपी सिरमौर हिमाचल प्रदेश रमन कुमार मीणा वहीं उत्तराखंड पुलिस से एडीजी अभिनव कुमार, वी मुरूगेशन, आइजी नीरू गर्ग, कृष्ण कुमार वीके, मुख्तार मोहसिन, करन सिंह नगन्याल डीआइजी योगेंद्र सिंह रावत, पी रेणुका देवी, एसएसपी देहरादून दलीप सिंह कुंवर भी मौजूद रहे।

About Author