June 16, 2024

GarhNews

Leading News Portal of Garhwal Uttarakhand

अपराध…. मॉडल शॉप में बिक रही थी अवैध शराब, आबकारी अधिकारी ने पकड़ा जखीरा, पांच वर्ष पुरानी शराब बेचता पकड़ा गया शराब ठेके का मालिक, मुकदमा दर्ज

Spread the love

देहरादून: एक स्तर से ऊपर की शराब पीने के शौकीन लोग शराब के सामान्य ठेकों पर धक्के न खाएं और उन्हें किसी तरह की हिचकिचाहट न हो, इसके लिए शराब की मॉडल शॉप खोली गई हैं। यह मॉडल शॉप किसी मॉल या एक आकार से अधिक के डिपार्टमेंटल स्टोर में खोली जा सकती है। हालांकि, अब जो बात सामने आ रही है, वह यह है कि इन महंगे स्टोर की शराब की गुणवत्ता की गारंटी नहीं दी जा सकती। क्योंकि, जिला आबकारी अधिकारी देहरादून ने दून की दो मॉडल शॉप पर अवैध शराब का खेल पकड़ा है। दोनों मॉडल शॉप के संचालकों के विरुद्ध जिला आबकारी अधिकारी राजीव चौहान ने मुकदमा भी दर्ज कराया है।

जिला आबकारी अधिकारी राजीव चौहान की तहरीर के मुताबिक कुछ दिन पहले राजपुर रोड स्थित दून स्काई मॉडल शॉप का निरीक्षण किया गया था। जिसमें पता चला कि मॉडल शॉप पर दो अनाधिकृत विक्रेता शराब की आपूर्ति कर रहे हैं। साथ ही स्टोर में वर्ष 2018-19 व 2019-20 के होलोग्राम लगी मदिरा/वाइन की 504 बोतलें पाई गईं। इनकी वैधता से संबंधित कोई दस्तावेज भी प्रस्तुत नहीं किए जा सके। जिससे यह पुष्टि नहीं हो सकी कि मदिरा वैध है।

जिला आबकारी अधिकारी राजीव चौहान के मुताबिक इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि मदिरा अवैध स्रोतों से लाई गई है। यह राजस्व क्षति का मामला भी है, जो कि गंभीर है। इसके अलावा मॉडल शॉप से ऐसे होलोग्राम भी पाए गए, जिनका अंकन होलोग्राम पंजिका में नहीं मिला। इनके जाली होने की पूरी आशंका है। प्रकरण में मॉडल शॉप संचालक सुनील कुमार बागिया और साहिल बिरमानी के विरुद्ध शहर कोतवाली में मुकदमा पंजीकृत जांच शुरू कर दी गई है।

शराब के अवैध कारोबार का दूसरा प्रकरण सुभाषनगर स्थित फ्रेश टाउन मॉडल शॉप से जुड़ा है। इसके निरीक्षण में जिला आबकारी अधिकारी कार्यालय की टीम ने पाया था कि गैनसिया पीच वाइन की दो बोतलों में कटा हुआ होलोग्राम लगाया गया है। जिसमें सीरीज नंबर भी नहीं पाया गया। वाइन की एक अन्य बोतल में भी कटा हुआ होलोग्राम पाया गया और सीरीज नंबर गायब मिला। जिससे स्पष्ट हुआ की मॉडल शॉप के संचालक शराब का करोबार अवैध रूप से करते हुए राजस्व की चोरी कर रहे हैं। साथ ही होलोग्राम में कूटरचना/छेड़छाड़ पाई गई। इस मामले में प्रणव अरोड़ा के साथ ही साहिल बिरमानी के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया गया है। उक्त दोनों दुकानों को निरीक्षण के साथ ही सील किया जा चुका था।

About Author